KYC Full Form in Hindi – KYC क्या होता है?

KYC Full Form: हेलो दोस्तों आपने KYC के बारे में तो जरूर सुना होगा, अक्सर बैंक वाले आपको KYC करवाने को बोलते रहते है। लेकिन क्या आप जानते है KYC का मतलबत क्या होता है और ये क्यों जरुरी है। आज हम आपको इसके बारे में विस्तार से बताने जा रहे है। आज हम जानेंगे कि KYC क्या है? KYC Full Form kya hai?

आज कल तो विभिन्न प्रकार के Payment system जैसे की Paytm, Phonepe, Amazon Pay, Mobikwik आदि के लिए भी KYC जरूरी पड़ती है। लेकिन बहुत से लोगों के सामने जब KYC Term आता है तो वे सोचने लग जाते है की आखिर KYC ka full form kya hai ? KYC क्या होता है ?

KYC Full Form in Hindi / KYC का पुरा नाम क्या है?

KYC भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा जारी की गई एक Identity Verification Process है। KYC का Full Form है “Know your customers“. कभी कभी इसे “Know your Client” भी कहा जाता है.

KYC ka full form kya hai

आज के समय में हमे किस भी ऑफिसियल वर्क में KYC की जरूरत पड़ती है बिना KYC किये हम बैंक में खाता भी नहीं खोल सकते, यहाँ तक की हम किसी भी बैंक से लोन नहीं ले सकते। बैंक या किसी भी फाइनेंसियल क्षेत्र में मिल रही सुविधाओ का लाग उठाने या उससे जुड़ने के लिए KYC बहुत जरुरी है, साथ ही साथ ये बहुत जरुरी प्रक्रिया है किसी भी बैंक से जुड़ने के लिए।

KYC क्या है? – Meaning of KYC in Hindi

KYC एक ग्राहक की Data capitalization Process है। यह किसी भी प्रकार के सरकारी कामो और बैंक के लिए बहुत जरुरी है। यहाँ ग्राहक की जानकारी जैसे व्यक्ति का नाम, पता, जन्म तिथि और अन्य व्यक्तिगत जानकारी ली जाती है. किसी भी ग्राहक के बचत खाते, म्यूचुअल फंड या फिक्स्ड को जमा करते समय यह केवाईसी प्रक्रिया होना जरूरी है। एक व्यक्ति का KYC केवल एक बार करवाना होता है। या अगर किसी कारण से इस व्यक्ति का खाता बंद हो जाता है, तो केवाईसी दोबारा करवाना होता है.

बैंक में खाता खोलने में, फिक्स्ड डिपाजिट बनवाने में,जमीन सम्बंधित जानकारी, बैक लोन लेने, बैंक लॉकर लेने, Credit Card बनाने, Mutual Fund खरीदने, पोस्ट ऑफिस सम्बंधित कार्य तथा बीमा आदि लेने के लिए KYC होना बहुत जरुरी हो चुका है।

KYC के लिये जरूरी डाक्यूमेंट्स

ऑनलाइन और ऑफलाइन KYC जमा करने के लिए कई दस्तावेजों की आवश्यकता होती है अगर आपको बैंक या किसी वित्तीय संस्था में KYC करना है तो आपको नीचे दिए गए डॉक्युमेंट की आवश्यकता पड़ेगी।

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • वोटर आईडी कार्ड
  • राशन कार्ड
  • नरेगा कार्ड
  • नेशनल पापुलेशन रजिस्टर से लेटर
  • पासपोर्ट
  • पासपोर्ट साइज फोटो

KYC के कितने प्रकार होते है?

ई-के वाय सी (EKYC)

EKYC का फुल फॉर्म “Electronically Know Your Customer” है। इस प्रकार के KYC में आपको किसी डॉक्यूमेंट की जरुरत नहीं होती क्यूंकि इस प्रकार के KYC में आपकी KYC की प्रक्रिया डिजिटल (Digital) रूप में की जाती है। इस प्रकार की KYC प्रक्रिया में आपको सिर्फ आपके आधार नंबर की आवश्यकता होती है। इस तरह की KYC को आप अपने घर बैठे ही पूरा कर सकते है।

सी-के वाय सी (CKYC)

CKYC का फूल फॉर्म “Central Know Your Customer” होता है। ये KYC आपको हर बैंक या वित्तीय संस्था में करवाई जाती है। इस प्रकार की KYC में आपको एक फॉर्म दिया जाता है इसमें आपको अपनी जानकारी देना होता है। इसके लिए आपको Bank में जाना जरुरी होता है।

FAQ – KYC Kya Hai in Hindi

eKYC का Full Form क्या है?

eKYC का full form है “Electronic Know your customers“. फुल KYC की तुलना में eKYC एक बहुत ही सरल Identity Verification Process है।

आज इस पोस्ट में मैंने KYC Full Form in Hindi – KYC क्या होता है? के बारे में बताया। आशा करता हूं आपको यह पोस्ट पसंद आयी होगी।

यदि आपको इस पोस्ट (KYC ka Full Form kya hai) से जुड़ा कोई सवाल पूछना हो तो हमें कॉमेंट करके जरूर बताएं। हम जितना जल्दी हो सके आपके Queries को सॉल्व करने की कोशिश करेंगे।

ये भी पढ़े:-

आपको हमारा यह लेख कैसा लगा ?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

Leave a Comment

close
Popular Hindi Bloggers form India NFT Kya Hota Hai in HIndi